आपको जिस Subject की PDF चाहिए उसे यहाँ Type करे

Thursday, 13 September 2018

CTET child development and pedagogy study material paper

बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र ( Child Development and Pedagogy ) Part – 6
दोस्तो हमनें CTET child development and pedagogy study material तैयार किया है क्योंकि CTET , UPTET  के परीक्षा में बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र का भाग काफी महत्वपूर्ण है। यह study material experts के द्वारा तैयार किया गया है जो अपनी बेबसाइट पर child development and pedagogy question with answers pdf  के One Liner Question and Answer के रुप में उपलब्ध करा रहें है, जो आपको सभी तरह के Teaching के Exam जैसे CTET , UPTET , MP Samvida Teacher , HTET , REET आदि व अन्य सभी Exams जिनमें कि Child Development and Pedagogy आता है उसमें काम आयेगी !
आज की हमारी पोस्ट Child Development and Pedagogy का 6th पार्ट है जिसमें कि हम बाल विकाश Child Development and Pedagogy के One Liner से संबंधित Most Important Question and Answer को बताऐंगे ! यदि आपने अभी तक इसके पहले 5 भाग नही पढ़े है तो उनको भी जरुर पढना| तो चलिये दोस्तो शुरु करते हैं !
ctet-study-material
501. लक्ष्‍य प्राप्ति में सूझ का महत्‍व माना है ड्रेवर ने
502.”सीखने की प्रक्रिया की एक प्रमुख विशेषता पठार है।यह कथन है रॉस का
503. अधिगम को प्रभावित करने वाले कारक है भूख एवं परिपक्‍वता, प्रशंसा एवं निन्‍दा, शिक्षण पद्धति एवं अभ्‍यास
504. सीखने में उन्‍नति पूर्ण सम्‍भव है सिद्धान्‍त रूप में
505. सीखने की आवश्‍यकता है बालक का पूर्ण व्‍यक्तित्‍व
506. सीखने की अन्तिम अवस्‍था में सीखने की गति होती है धीमी
507. सीखना प्रारम्‍भ होता है जिज्ञासा
508. सीखने की गति निर्भर करती है सीखने वाले की रूचि पर, जिज्ञासा पर, सीखने वाले की प्रेरणा।
509. सीखने की प्रक्रिया सम्‍पादित होती है शिक्षकों से
510. बन्‍दूरा के अनुसार, किन प्रतिरूपों का बालकों द्वारा अनुकरण किया जाता है जो पुरस्‍कृत साधनों पर नियन्‍त्रण रखते हैं। जो उच्‍च स्‍तर रखते हैं।
511. निम्‍नलिखित में कौन-सा तथ्‍य बन्‍दूरा के व्‍यक्तित्‍व के सिद्धान्‍त से सम्‍बन्धित है सामाजिक पुरस्‍कार का सिद्धान्‍त, दण्‍ड का सिद्धान्‍त, प्रतिरूपों के तादात्‍मीकरण का सिद्धान्‍त।
512. राम के पिता को परमवीर चक्र प्रदान किया गया क्‍योंकि उसके पिता सेना में कार्यरत हैं। उसके पिता को सभी समाज के सामने सम्‍मानित किया गया। इसके बाद बालकों में देश सेवा की क्रियाओं को भाग लेने की भावना का विकास हुआ। यह प्रक्रिया बन्‍दूराके किस सिद्धान्‍त पर आधारित है सामाजिक पुरस्‍कार का सिद्धान्‍त
513. अधिगम की प्रक्रिया में किन प्रतिरूपों का अनुकरण नहीं किया जाता है अयोग्‍य प्रतिरूपों का
514. एक बालक कक्षा से इसलिए नहीं भागता है कि शिक्षक द्वारा अन्‍य भागने वाले बच्‍चों को दण्डित किया जाता है। उसका यह अनुकरण किस सिद्धान्‍त पर आधारित है दण्‍ड का सिद्धान्‍त
515. बन्‍दूरा के प्रमुख रूप से व्‍यक्तित्‍व सिद्धान्‍तों की संख्‍या है दो
516. बन्‍दूरा के अधिगम सिद्धान्‍त का प्रमुख साधन था फिल्‍म
517. बन्‍दूरा के द्वारा प्रस्‍तुत अधिगम सिद्धान्‍त में फिल्‍म के भाग थे तीन
518. बन्‍दूरा ने प्रमुख रूप से अपनीप्रयोगसम्‍बन्‍धी क्रियाओं में किन तथ्‍यों को स्‍थान प्रदान किया पुरस्‍कार एवं दण्‍ड
519. बन्‍दूरा ने अपने सिद्धान्‍त का प्रयोग किया बालकों पर
520. बालकों द्वारा प्रतिरूप के किस व्‍यवहार का अनुकरण नहीं किया जाता है दण्डित व्‍यवहार का
521. तादात्‍मीकरण का आशय है प्रतिरूप की क्रियाओं को आत्‍मसात करना
522. छात्रों में अन्‍तर्निहित प्रतिभाओं का विकास सम्‍भव होता है तादात्‍मीकरण द्वारा
523. तादात्‍मीकरण की प्रक्रिया से सम्‍बन्धित तथ्‍य है प्रतिरूप के व्‍यवहार से प्रभावित होना, प्रतिरूप का चयन करना, प्रतिरूप के अनेक व्‍यवहारों का अनुकरण करना।
524. बालक द्वारा सर्वाधिक प्रतिरूप के किस व्‍यवहार का अनुकरण किया जाता है पुरस्‍कृत व्‍यवहार का
525. एक बालक द्वारा शिक्षक की शिक्षण कला को देखकर उसके व्‍यवहार का अनुकरण किया जाता है। बालक द्वारा बन्‍दूरा के किस सिद्धान्‍त का अनुकरण किया जाता है तादात्‍मीकरण के सिद्धान्‍त का
526. विद्धालय के नियमों का अनुकरण छात्रों द्वारा किया जाता है दण्‍ड के आधार पर
527. एक बालक अपने सहपाठी राम को दौड़ने में प्रथम स्‍थान प्राप्‍त करते हुए देखता है तो वह भी उसका अनुकरण करने लगता है। उसका यह अनुकरण माना जाएगा ईर्ष्‍या के आधार पर
528. अधिगमकर्ता किसी प्रतिरूप का चयन किस आधार पर करता है सहानुभूति एवं आत्‍मीय व्‍यवहार
529. एक बालक में खेल के प्रति रुचि अधिक है इसलिए वह अन्‍य शिक्षकों की तुलना में खेल शिक्षक को प्रतिरूप के रूप में स्‍वीकार करता है। उसका यह प्रतिरूप चयन आधारित होगा आदतों की समानता
530. सामाजिक अधिगम की प्रक्रिया में स्‍थायित्‍व की स्थिति उत्‍पन्‍न होती है जब कोई घटना बार-बार होती है।
531. सामाजिक रूप से उपयोगी तथा अधिगमकर्ता द्वारा उसकी स्‍वीकृत उपयोगिता किसी क्रिया में उत्‍पन्‍न करती है स्‍थायी अधिगम
532. मोहन अपने बड़े भाई को दूसरों की सहायता करते हुए देखता है, परिणामस्‍वरूप वह भी इस कार्य में लग जाता है। इस प्रक्रिया में प्रमुख भूमिका होता है प्रभावशीलता की
533. सामाजिक अधिगम की तीव्रता एवं स्‍थायी गति होती है शिक्षित समाज में
534. जिस समाज में सामाजिक नियम एवं परम्‍परा प्रगतिशील एवं आत्‍मानुशासन से सम्‍बन्धित होंगे। उत्‍तम एवं तीव्र
535. सामान्‍य परिस्थितियों में 5 वर्ष के बालक द्वारा सात वर्ष के बालक की तुलना में कम सामाजिक अधिगम किया जाता है। इसका प्रमुख कारण है आयु परिपक्‍वता
536. रूढिवादी समाज में सामाजिक अधिगम की मन्‍दता का कारण होता है अस्‍वस्‍थ परम्‍पराएं, अन्‍धविश्‍वास, अनुपयोगी परम्‍पराएं
537. किसी समाज में आन्‍तरिक कलह, संघर्ष एवं अशान्ति का वातावरण है। मन्‍द
538. लेह-लद्दाख की तुलना में दिल्‍ली में सहने वाले बालक का सामाजिक अधिगम अधिक होता है। इसका प्रमुख कारण है जलवायु
539. अन्‍य देशों की तुलना में भारतीय बालकों में सामाजिक अधिगम की गति तीव्र हेाती है क्‍योंकि भारतीय समाज सम्‍पन्‍न है शिक्षा से
540. सामाजिक अधिगम किन परिस्थितियों में उत्‍तम होता है अधिगमकर्ता के अनुरूप
541. सीखने के मुख्‍य नियमों के अतिरिक्‍त गौण नियम भी हैं जो मुख्‍य नियमों को विज्ञतार देते हैं। गौण नियम है बहुप्रतिक्रिया नियम
542. निम्‍न में से जो वंचित वर्ग से सम्‍बन्धित नहीं है, वह है अमीर वर्ग
543. मूल प्रवृत्तियां एक जाति के प्राणियों में एक-सी होती है, यह कथन है भाटिया का
544. निम्‍न में से जो अधिगम के स्‍थानान्‍तरण का सिद्धांत नहीं है, वह है असमान अंशों का सिद्धान्‍त
545. पावलॉव ने अधिगमका जो सिद्धान्‍त प्रतिपादित किया था, वह है अनुकूलित अनुक्रिया
546. मूल प्रवृत्तियोंमें आवश्‍यक होता है अनुभव
547. थार्नडाइक का सीखने का मुख्‍य नियम नहीं है सदृश्‍यीकरण का नियम
548. अन्‍तर्दृष्टि पर प्रभाव डालने वाले तत्‍व है बुद्धि, अनुभव, प्रयत्‍न एवं त्रुटि
549.”मापन किया जाने वाला व्‍यक्तित्‍व का प्रयोग पहलू वैयक्तिक भिन्‍नता का अंश है।उपर्युक्‍त परिभाषा दी है स्किनर ने
550. क्रियात्‍मक अनुबन्‍धन का सिद्धान्‍त किसकी देन माना जाता है स्किनर की
551. जब पूर्व प्राप्‍त अनुभव नवीन समस्‍या को हल करने में सहायक होता है, वह है धनात्‍मक स्‍थानान्‍तरण
552. निम्‍नलिखित में से सीखने का मुख्‍य नियम है अभ्‍यास का नियम
553. थार्नडाइक का अधिगम सिद्धान्‍त निम्‍नलिखित नाम से जाना जाता है प्रयास व त्रुटि का सिद्धान्‍त
554. जिन आदतों का सम्‍बन्‍ध मस्तिष्‍क से होता है, वह हैं नाड़ीमण्‍डल सम्‍बन्‍धी आदतें
555. कक्षा वातावरण में सीखने का महत्‍वपूर्ण नियम है हस्‍तलेखन
556. सीखी गई क्रिया का अन्‍य समान परिस्थितियों में उपयोग किया जाना कहलाता है अधिगम, अधिगम स्‍थानान्‍तरण या परिपक्‍वता इनमें से कोई नहीं
557. सीखने के मुख्‍य नियमों के अतिरिक्‍त गौण नियम भी हैं जो मुख्‍य नियमों को विस्‍तार देते हैं। गौण नियम है बहुप्रतिक्रिया नियम
558. शिक्षा मनोविज्ञान जरूरी है शिक्षक, छात्र, अभिभावक सभी के लिए
559. सीखना प्रभावित होता है प्रेरणा
560.”सीखना सम्‍बन्‍ध स्‍थापित करता करता है। सम्‍बन्‍ध स्‍थापित करने का कार्य, मनुष्‍य का मस्तिष्‍क करता है।यह कथन है थार्नडाइक का
561. अधिगम की निम्‍नान्कित परिभाषा किसने दी है? ‘सीखना विकास की प्रक्रिया है।‘ – बुडवर्थ
562.”सीखने की असफलताओं का कारण समझने की असफलताएं हैं।यह क‍थन है मर्सेल का
563. सीखने के बिना सम्‍भव नहीं है वृद्धि व अभिवृद्धि
564. छात्रों द्वारा विचार-विनिमय किया जाता है सम्‍मेलन व विचार गोष्‍ठी से
565. प्रारम्भिक कक्षाओं में सीखने की जिन विधियों को महत्‍व दिया है, वह है करके सीखना
566. सीखने के लिए विष्‍य-सामग्री का स्‍वरूप होना चाहिए सरल से कठिन
567. सीखने के प्रकार है ज्ञानात्‍मक, गामक, संवेदनात्‍मक अधिगम
568. जब किसी वस्‍तु को देखकर या स्‍पर्श कर ज्ञान प्राप्‍त किया जाता है तो वह सीखना कहलाता है प्रत्‍यक्षात्‍मक सीखना
569. तत्‍परता के द्वारा हम कार्य सीख लेते हैं शीघ्र
570. सीखने को प्रभावित करता है, कक्षा का मनोविज्ञान वातावरण
571. हम जो भी नया काम करते हैं उसे आत्‍मसात कर लेते हैं। यह सम्‍बन्धित है आत्‍मीकरण के नियम से
572. संवेग में प्रवृत्ति होती हैं स्थिरता
573. थार्नडाइक मनोवैज्ञानिक थे अमेरिका के
574. स्किनर ने कितने प्रकार के उपपुनर्बलन का प्रयोग किया है? – चार प्रकार के
575. ‘कोहलरका अधिगम-सिद्धान्‍त निम्‍नलिखित नाम से जाना जाता है अन्‍तदृष्टि का सिद्धान्‍त
576. निम्‍नांकित में वंचित वर्ग में शामिल होते हैं अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, विकलांग बालक सभी
577. अधिगम को प्रभावित करने वाले घटक हैं उचित वातावरण, प्रेरणा एवं परिपक्‍वता
578.”संवेगात्‍मक जीवन में स्‍थानान्‍तरण का नियम एक वास्‍तविक तथ्‍य है।यह कथन है मैलोन का
579. निम्‍न में से कौन-सा कारक किशोरावस्‍था में बालक के विकास को प्रभावित करता है? – खान-पान, वंशानुक्रम एवं नियमित दिनचर्या
580. अधिगम तब तक सम्‍भव नहीं है जब तक कि व्‍यक्ति शारीरिक तथा मानसिक रूप से ……….. नहीं हो परिपक्‍व
581. जिस विधि के द्वारा बालक को आत्‍म-निर्देशन के माध्‍यम से बुरी आदतों को दुड़वाने का प्रयास किया जाता है, वह विधि है आत्‍मनिर्देशन विधि
582. बालक के सामाजिक विकास में सबसे महत्‍वपूर्ण कारक कौन-सा है? – वातावरण का
583. संवेगात्‍मक विकास की किस अवस्‍था में तीव्र परिवर्तन होता है? – किशोरावस्‍था
584. बुद्धि-लब्धि के लिए विशिष्‍ट श्रेय किस मनोवैज्ञानिक को जाता है? – स्‍टर्न को
585. चरित्र को निश्चित करने वाला महत्‍वपूर्ण कारक है मनोरंजन सम्‍बन्‍धी कारक
586. सामान्‍य बुद्धि बालक प्राय: किस अवस्‍था में बोलना सीख जाते हैं? – 11 माह
587. निम्‍नांकित पद्धति व्‍यक्तिगत भेद को ध्‍यान में नहीं रखकर शिक्षण में प्रयुक्‍त की जाती है व्‍याख्‍यान विधि
588. शारीरिक रूप से व्‍यक्ति-व्‍यक्ति के मध्‍य जो भिन्‍नता दिखाई देती है, वह कहलाती है बाहरी विभिन्‍नता
589. जिस आयु में बालक की मानसिक योग्‍यता का लगभग पूर्ण विकास होता है, वह है – 14 वर्ष
590. बाह्य रूप से दो व्‍यक्ति एकसमान हैं, लेकिन वे अन्‍य आन्‍तरिक योग्‍यताओं की दृष्टि से समरूप नहीं हैं, ऐसी व्‍यक्गित विभिन्‍नता कहलाती है आन्‍तरिक विभिन्‍नता
591. मोटे रूप में व्‍यक्तिगत विभेद को कितने भागों में विभाजित किया गया है? – दो
592. एक छात्र द्वारा गणित के सूत्र x2+y2+2xy की गणितीय अवधारणा का प्रयोग भौतिक विज्ञान के प्रश्‍न का हल करने में किया जाता है। उसका यह कार्य माना जाएगा अधिगम स्‍थानान्‍तरण
593. व्‍यक्तिगत शिक्षण में निम्‍नलिखित विधि काम में नहीं आती है सामूहिक शिक्षण पद्धति
594. अधिगम स्‍थानान्‍तरण से बचत होती है समय एवं श्रम की
595. निम्‍नलिखित में से कौन-सा कारक अधिगम को प्रभावित करने वाले मनोवैज्ञानिक कारकों से सम्‍बन्धित है? – उचित प्रतिचारों का चुनाव, प्रक्रिया की प्रभावशीलता, रुचि सभी
596. एक बालक गणित सीखनेमें रुचि नहीं रखता है इसलिए वह गणित में कमजोर है। यह कारक अधिगम को प्रभावित करने वाले कारकों में से किस कारक से सम्‍बन्धित है? – मनोवैज्ञानिक कारक से
597. अधिगम स्‍थानान्‍तरा की आवश्‍यक शर्त है स्‍थायी अधिगम, स्थिति का चयन, प्रभाव, ये सभी
598. निम्‍नलिखित में कौन-सा कारक शारीरिक कारक से सम्‍बन्धित है जो कि अधिगम को प्रभावित करते हैं विकलांगता, दृष्टि दोष, एवं श्रवण दोष
599. निम्‍नलिखित में कौन-सा कारक अधिगम को प्रभावित करने वाले सामाजिक कारकों से सम्‍बन्धित है? – शिक्षित समाज, सामाजिक प्रशंसा, सामाजिक नियमों का प्रभाव
600. एक बालक कक्षा में इसलिए अनुपस्थित रहता है कि उसके माता-पिता उसे गृहकार्य नहीं करने देते हैं तथा उसे अपने निजी कार्यों में लगाते हैं। इसका प्रमुख कारण माना जायेगा अशिक्षित समाज का होना, शिक्षा के महत्‍व को न जानना, अभिभावक का अशिक्षित होना।
Note:- यदि आपने इसका पहला पार्ट नही पढ़ा है तो उसको भी जरुर पढ़े:
दोस्तों आपको हमारे द्वारा उपलब्ध करवाए जा रहें (बाल विकाश) Child Development and Pedagogy के One Liner question answer केसे लग रहें है? यह आपकी तैयारी में कितने लाभदायक सिद्ध हो रहें है? यह comment के माध्यम से हमे बताइए यदि आप कुछ सुधार चाहते है तो आप comment के माध्यम से जरुर बताइए ताकि जरूरी सुधार किया जा सके|

No comments:

Post a Comment