आपको जिस Subject की PDF चाहिए उसे यहाँ Type करे

Tuesday, 4 September 2018

बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy ) Part – 2


बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy ) Part – 2

दोस्तो हमने अपनी बेबसाइट पर Child Development and Pedagogy के One Liner Question and Answer के पार्ट उपलब्ध करवाना शरू कर दिए है, जो आपको सभी तरह के Teaching के Exam जैसे CTET , UPTET , MP Samvida Teacher , HTET , REET आदि व अन्य सभी Exams जिनमें कि Child Development and Pedagogy आता है उसमें काम आयेगी ! हम उम्मीद करते है आपको यह पसंद आयेगे !
आज की हमारी पोस्ट Child Development and Pedagogy का दूसरा पार्ट है जिसमें कि हम बाल विकाश का परिचय ( Introduction to Child Development ) से संबंधित Most Important Question and Answer को बताऐंगे ! तो चलिये दोस्तो शुरु करते हैं !
Note:- यदि आपने इसका पहला पार्ट नही पढ़ा है तो उसको भी जरुर पढ़े:
101. बाल्‍यावस्‍था के दो भाग कौन-कौन से हैं पूर्व बाल्‍यावस्‍था तथा उत्‍तर बाल्‍यावस्‍था
102. सात वर्ष की आयु में पहुंचते-पहुंचते एक सामान्‍य बालक का शब्‍द भण्डार हो जाता है, लगभग – 6000 शब्‍द
103. संकल्‍प शक्ति के कितने अंग हैं तीन
104. व्‍यक्तिगत भेद को ज्ञात करने की विधियां हैं बुद्धि परीक्षण, व्‍यक्ति इतिहास विधि, रूचि परीक्षण
105. बालक के समाजीकरण का प्रा‍थमिक घटक है क्रीड़ा स्‍थल
106. बालक के चारित्रिक विकास के स्‍तर हैं मूल प्रवृत्‍यात्‍मक, पुरस्‍कार व दण्‍ड, सामाजिकता
107.”बालक की शक्ति का वह अंश जो किसी काम में नहीं आता है, वह खेलों के माध्‍यम से बाहर निकाल दिया जाता है।यह तथ्‍य कौन-सा सिद्धान्‍त कहता है अतिरिक्‍त शक्ति का सिद्धान्‍त
108. भाषा विकास के विभिन्‍न अंग कौन से हैं अक्षर ज्ञान, सुनकर भाषा समझना, ध्‍वनि पैदा करके भाषा बोलना Bal Vikas Shiksha Shastra Notes
109. स्‍टर्न के अनुसार खेल क्‍या है खेल एक ऐच्छिक, आत्‍म-नियन्त्रित क्रिया है।
110. संवेगात्‍मक स्थिरता का लक्षण है भीरू
111. अभिप्रे‍रणा का महत्‍व है रूचि के विकास में, चरित्र निर्माण में, ध्‍यान केन्द्रित करने में
112. उत्‍तर बाल्‍यकाल का समय कब होता है – 6 से 12 वर्ष तक
113. भाषा विकास के क्रम में अन्ति क्रम (सोपान) है भाषा विकास की पूर्णावस्‍था
114. शिक्षा का कार्य है अर्जित रूचियों को स्‍वाभाविक बनाना।
115. बालक के सामाजिक विकास में सबसे महत्‍वपूर्ण कारक कौन-सा है वातावरण
116. बालक का शारीरिक, मानसिक, सामाजिक और संवेगात्‍मक विकास किस अवस्‍था में पूर्णता को प्राप्‍त होता है किशोरावस्‍था
117. चरित्र को निश्चित करने वाला महत्‍वपूर्ण कारक है मनोरंजन सम्‍बन्‍धी कारक
118. जिस आयु मेंबालक की मानसिक योग्‍यता का लगभग पूर्ण विकास हो जाता है, वह है – 14 वर्ष
119. शिक्षा की दृष्टि से बाल की महत्‍वपूर्ण आवश्‍यकता क्‍या है बालकों के साथ मनोवैज्ञानिक व्‍यवहार की आवश्‍यकता
120. संवेगात्‍मक विकास में किस अवस्‍था में तीव्र परिवर्तन होता है किशोरावस्‍था
121. मानव शरीर का आकार किस ग्रन्थि की सक्रियता से बढ़ता है पिनीयल ग्रन्थि से
122.”दो बालकों में समान मानसिक योग्‍यताएं नहीं होती।यह कथन है हरलॉक का
123.”संवेदना ज्ञान की पहली सीढ़ी है।यह मानसिक विकास है।
124. बालक की वृद्धि रूक जाती है शारीरिक परिपक्‍वता प्राप्‍त करने के बाद
125. तर्क, जिज्ञासा तथा निरीक्षण शक्ति का विकास होता है – 11 वर्ष की आयु में
126. “Introduction of Psychology” नामक पुस्‍तक लिखी है हिलगार्ड तथा एटकिसन ने
127.  ईमोशनशब्‍द का अर्थ है उत्‍तेजित करना, उथल-पुथल पैदा करना, हलचल मचाना।
128. ‘संवेग अभिप्रेरकों का भावनात्‍मक पक्ष है।यह कथन है मैक्‍डूगल का
129. व्‍यक्ति के स्‍वाभाविक विकास को कहते हैं अभिवृद्धि
130.  संवेग प्रकृति का हृदय है।यह कथन है मैक्‍डूगल का
131. ‘Physical and Character’ पुस्‍तक के लेखक हैं थार्नडाइक
132. संवेगहीन व्‍यक्ति को माना जाता है पशु
133. सांवेगिक स्थिरता में किस वस्‍तु के प्रति निर्वेद अधिगम को बढ़ाते हैं साहस, जिज्ञासा, भौतिक वस्‍तु
134. कोई व्‍यक्ति डॉक्‍टर बनने की योग्‍यता रखता है तो कोई व्‍यक्ति शिक्षक बनने की योग्‍यता। यह किस कारण से होती है अभिरूचि के कारण
135. बाल्‍यावस्‍था में शिक्षा का स्‍वरूप होना चाहिए सामूहिक खेलों एवं रचनात्‍मक कार्यों के माध्‍यम से शिक्षा दी जानी चाहिए।
136.”सत्‍य अथवा तथ्‍यों के दृष्टिकोण से उत्‍तम प्रतिक्रिया का बल ही बुद्धि है।बुद्धि की यह परिभाषा है थार्नडाइक की
137. एडोलसेन्‍स शब्‍द लैटिन भाषा के एडोलेसियर क्रिया से बना है, जिसका तात्‍पर्य है परिपक्‍वता का बढ़ना
138. किशोरावस्‍था का समय है – 12 से 18 तक
139. मानव की वृद्धि एवं विकास की प्रक्रिया निम्‍न में से किस सिद्धान्‍त पर आधारित है विकास की दिशाका सिद्धान्‍त, परस्‍पर सम्‍बन्‍ध का सिद्धान्‍त, व्‍यक्तिगत भिन्‍नताओं का सिद्धान्‍त
140. पर्यावरण का निर्माण हुआ है परि + आवरण
141. बोरिंग के अनुसार जीन्‍स के अतिरिक्‍त व्‍यक्ति को प्रभावित करने वाली वस्‍तु है वातावरण
142. बुडवर्थ के अनुसार वातावरण का सम्‍बन्‍ध है बाह्य तत्‍वों से
143. बालकों को वंशानुक्रम से प्राप्‍त होती है वांछनीय एवं अवांछनीय आदतें
144. किशोर की शिक्षा में किस बात पर विशेष ध्‍यानाकर्षण की आवश्‍यकता होती है यौन शिक्षा पर, पूर्ण व्‍यावसायिक शिक्षा पर, पर्याप्‍त मानसिक विकास पर
145. किशोरावस्‍था की विशेषताओं को सर्वोत्‍तम रूप में व्‍य‍क्‍त करने वाला एक शब्‍द है परिवर्तन
146. किशोरावस्‍था के विकास को परिभाषित करने के लिए बिग एंड हण्‍ट ने किस शब्‍द को महत्‍वपूर्ण माना है परिवर्तन
147. किशोरावस्‍था में बालकों में सामाजिकता के विकास के सन्‍दर्भ में कौन-सा कथन असत्‍य है वे परिवार के कठोर नियन्‍त्रण में रहना पसन्‍द करते हैं।
148. निम्‍न में कौनसा कारक किशोरावस्‍था में बालक के विकास को प्रभावित करता है खान-पान, वंशानुक्रम, नियमित दिनचर्या Bal Vikas Shiksha Shastra Notes
149. किशोरावस्‍था प्राप्‍त हो जाने पर, निम्‍न में से कौन-सा गुण बालक में नहीं आता है अधिक समायोजन का
150. ‘दिवास्‍वप्‍नकिस संगठन तन्‍त्र में विकसित रूप प्राप्‍त करता है पलायन
151.”बालक की शक्ति का वह अंश जो किसी काम में नहीं आता है, वह खेलों के माध्‍यम से बाहर निकाल दिया जाता है।यह तथ्‍य कौन-सा सिद्धान्‍त कहलाता है अतिरिक्‍त शक्तिका सिद्धान्‍त
152. बालक के समाजीकरण में भूमिका होती है परिवार की, विद्यालय की, परिवेश की
153. जिस बुद्धि का कार्य सूक्ष्‍य तथा अमूर्त प्रश्‍नों का चिन्‍तन तथा मनन द्वारा हल करना है, वह है अमूर्त बुद्धि
154. निरंकुश राजतन्‍त्र में समाजीकरण की प्रक्रिया होगी मन्‍द
155. किशोरावस्‍था में रुचियां होती है सामाजिक रूचियां, व्‍यावसायिक रूचियां, व्‍यक्तिगत रूचियां
156. जिस विधि के द्वारा बालक को आत्‍म-निर्देशन के माध्‍य से बुरी आदतों को छुड़वाने का प्रयास किया जाता है, वह विधि है आत्‍मनिर्देश विधि
157. संवेगात्‍मक एवं सामाजिक विकास के साथ-साथ चलने की प्रक्रिया को किस विद्वान ने स्‍वीकार किया है क्रो एण्‍ड क्रो
158. खेल के मैदान को किस विद्वान ने चरित्र निर्माण का स्‍थल माना है स्किनर तथा हैरीमैन ने
159. चरित्र को निश्चित करने वाला महत्‍वपूर्ण कारक है मनोरंजन संबंधी कारक
160. किस स्थिति में समाजीकरण की प्रक्रिया तीव्र होगी धर्मनिरपेक्षता
161. समाजीकरण की प्रक्रिया को प्रभावित करते है शिक्षा, समाज का स्‍वरूप, आर्थिक स्थिति
162. सामान्‍य बुद्धि बालक प्राय: किस अवस्‍था में बोलना सीख जाते हैं – 11 माह
163. पोषाहार योजना सम्‍बन्धित है मिड डे मील योजना से
164. मिड डे मील योजना का प्रमुख लक्ष्‍य है बालक को पोषण प्रदान करना।
165. सामान्‍य ऊर्जा में पोषण का अर्थ माना जाता है सन्‍तुलित भोजन से
166. मिड डे मील योजना का प्रमुख संबंध है केन्‍द्र से
167. पोषण के प्रमुख पक्ष हैं सन्‍तुलित भोजन, नियमित भोजन
168. पोषण का विकृत रूप कहलाता है कुपोषण
169. एक शिक्षक को पूर्ण ज्ञान होना चाहिए पोषण का, पोषण के उपायों का, पोषक तत्‍वों का
170. व्‍यापक अर्थ में पोषण का सम्‍बन्‍ध होता है सन्‍तुलित भोजन से, स्‍वास्‍थ्‍यप्रद वातावरण एवं प्रकृति से
171. पोषण का अभाव अप्रत्‍यक्ष रूप से प्रभावित करता है सामाजिक विकास को
172. पोषण के अभाव में बालक का व्‍यवहार हो जाता है चिड़चिड़ा, अमर्यादित
173. पोषण का सम्‍बन्‍ध होता है शारीरिक एवं मानसिक विकास
174. सन्‍तुलित भोजन का स्‍वरूप निर्धारित होता है आयु वर्ग के अनुसार
175. अनुपयुक्‍त भोजन उत्‍पन्‍न करता है कुपोषण
176. पोषण में वृद्धि के उपाय होते है भोजन से सम्‍बन्धित, पर्यावरण से सम्‍बन्धित
177. पोषण के उपायों में प्रभावशीलता के लिए आवश्‍यक है शिक्षक सहयोग, अभिभावक सहयोग, विद्यार्थी सहयोग
178. निम्‍नलिखित में कौन-सी विशेषता पोषण से सम्‍बन्धित है सन्‍तुलित भोजन
179. सन्‍तुलित भोजन के लिए आवश्‍यक है शुद्धता एवं नियमितता
180. सन्‍तुलित भोजन के साथ पोषण के लिए आवश्‍यक है स्‍वास्‍थ्‍यप्रद वातावरण, उचित व्‍यायाम, खेलकूद
188. प्रोटीन सामान्‍य रूप से होती है दो प्रकार की
189. मांस से प्राप्‍त प्रोटीन को कहते है जन्‍तु जन्‍य प्रोटीन
190. क्‍वाशियरकर नामक रोग उत्‍पन्‍न होता है प्रोटीन की कमी से
191. गन्‍ने के रस, अंगूर तथा खजूर से प्रमुख रूप से प्राप्‍त होती है कार्बोज
192. कौन-सा स्रोत वनस्‍पतिजन्‍य प्रोटीन का है जौ
193. कार्बोज की अधिकता से कौन सा रोग उत्‍पन्‍न होता है मोटापा, बदहजमी
194. वसा के प्रमुख स्रोत हैं वनस्‍पति तेल व सूखे मेवे
195. शरीर को अधिक शक्ति प्रदान करता है वसा
196. घेंघा नामक रोग उत्‍पन्‍न होता है आयोडिन अथवा खनिज लवण की कमी से
197. विटामिन का आविष्‍कार हुआ था उन्‍नीसवीं शताब्‍दी के आरम्‍भ में
198. खनिज लवणों की कमी से रक्‍त को नहीं मिल पाता है हीमोग्‍लोबिन
199. विटामिन ए की कमी से बालकों में कौंन-सा रोग होता है रतौंधी
200. पेलाग्रा रोग किस विटामिन की कमी से होता है बी
You Must Read:-

3 comments:

  1. Looking For RRB Result for Group D, ALP, and RPF? Look no more. Here, we are, providing the all RRB Result, may it be Group D, ALP, and RPF right, at one place at railwayresult.in. So, keep yourself updated with RRB Result.

    ReplyDelete
  2. Candidates who have applied for the UPTET will be able to download the UPTET Admit Card 2018 from the official website.

    ReplyDelete